Wednesday, 31 August 2017

Sms, shayri,fun,comedy, poetry,Ghazal, Love story

Showing posts with label bewafai shayri. Show all posts
Showing posts with label bewafai shayri. Show all posts

Wednesday, July 26, 2017

2 line Love shayari

मैंने दरवाज़े पे ताला भी लगा कर देखा है ,
ग़म फिर भी समझ जाते है की मैं घर में हूँ ..
________

: वो तेरी कसमें,,,वो तेरे वादे...
हम दोनों के क्या क्या नहीं थे इरादे....
__________

मोहब्बत हाथ की चूड़ियों के जैसी होती है,
संवरती है..खनकती है..और टूट जाती है ।।
_________

बड़ा गजब किरदार है मोहब्बत का,अधूरी हो सकती है मगर ख़तम नहीं !!
__________

एक वक्त था एक पल की जुदाई भी उसे रास नहीं आती थी....

और एक वक्त है ये केएक मुद्दत से 'मैं' उसे याद नहीं...
_______

चार दिन की मोहब्बत दे कर,
उम्र भर की रातों की नींदें ले गयी !!
________

रोज तुझे ये सोच कर याद कर लेते है
              की
आज के बाद तुझे याद नही करेंगे
_________

जिसे लोग इश्क़ कहते हैं, वो हम तुमसे बेहिसाब करते हैं....
_________

दो आँखों में दो ही आँसूं,
एक तेरे लिये और एक तेरी खातिर !!

Follow by Email

Recent Post

Contact Us

Name

Email *

Message *

Search This Blog